Categories

April 21, 2024

skdarpannews

ASHALI SURAT DIKHATA

पैत्रिक भूमि बचाने के लिए गुलफ़िशा खान (प्रदेश सचिव) को देना पड़ रहा धरना,प्रशासन नहीं कर रहा सुनवाई

पैत्रिक भूमि बचाने के लिए गुलफ़िशा खान (प्रदेश सचिव) को देना पड़ रहा धरना,प्रशासन नहीं कर रहा सुनवाई

पैत्रिक भूमि बचाने के लिए गुलफ़िशा खान (प्रदेश सचिव) को देना पड़ रहा धरना,प्रशासन नहीं कर रहा सुनवाई

लखनऊ  जहाँ एक तरफ मुख्यमंत्री भूमाफियाओं के खिलाफ लगातार कारवाही कर गरीबो की जमीन वापस करा रहे वही राजधानी का कुछ अलग ही रवैया है जहां ताजा मामला लखनऊ के थाना अलीगंज का है जहां पीड़ित की माने तो उसकी जमीन खसरा संख्या 202 रकबा नोवशी हजार वर्गफुट है जो की गुलफिशा खान के पति अमीर आलम खान के नाम है।लेकिन कुछ भूमाफियाओं ने इस जमीन को अपनी बता कर उसपर कब्जा कर लिया है।जब पीड़ित को इसकी जनकरी हुई तो 12 फरवरी से शांति प्रिया तरीके से मेहदी टोला झण्डा बाबा का आश्रम अलीगढ़ में अनिश्चितकालीन धरना देना शुरू कर दिया इसकी जानकारी उप जिलाधिकारी को 6 फरवरी को ही दी जा चुकी है और मामला लंबित है इसके बाद भी विपक्षी लगातार उकसाने की कार्रवाई कर रहे हैं और जेसीबी से मिट्टी की खुदाई कर इस पर कब्जा कर रहे हैं अप भूमि से संबंध सिविल जज लखनऊ के समझ अमीर आलम बादाम ठाकुर जी महाराज के नाम से लंबित है सावित्री सिंह ने बताया कि सतीश चंद्र अग्रवाल ने सिविल जज न्यायालय में लिखे जो उसे अमीर आलम को बैग और समझौते में मलिक मान चुके हैं अब फर्जी अभिलेख बनाकर सतीश चंद्र अग्रवाल के बेटे अमित अग्रवाल हरीश स्वास्थ्य नदीम आदमी की निधि वजह से हेरा फेरी हेरा फेरी का नया तहसीलदार के यहां से 8 महीने पहले आदेश कर लिया था इसके खिलाफ हम लोगों ने उप जिलाधिकारी के यहां अपित दायर की है लेकिन आज तक कोई भी कार्रवाई नहीं हुई और जिस दिन से हम लोग धरने पर बैठे हैं विपक्षी दल हमारे किसान यूनियन के पदाधिकारी को गलत तरीके से फसाने की कोशिश कर रहे हैं जिसमें यह काम मामला कुछ और ही हो जाए वही किस भारतीय किसान यूनियन की राष्ट्रीय अध्यक्ष सावित्री सिंह ने यह भी बताया कि अलीगंज पुलिस आरोपी को अपने साथ बैठकर शॉर्टकट कर उसे कब्जा दिलाने का प्रयास भी कर रही है लेकिन हम लोग अब मानने वाले नहीं हैं यदि हमें यहां न्याय नहीं मिला तो हम लोग मुख्यमंत्री आवास का भी घेराव करेंगे |