skdarpannews

ASHALI SURAT DIKHATA

माड़वाड़ी समाज ने धूमधाम से निकाली गई भगवान श्री जगन्नाथ यात्रा

माड़वाड़ी समाज ने धूमधाम से निकाली गई भगवान श्री जगन्नाथ यात्रा

माड़वाड़ी समाज ने धूमधाम से निकाली गई भगवान श्री जगन्नाथ यात्रा

लखनऊ-लखनऊ मे कल शहरभर में जगन्नाथ यात्रा बड़े धूमधाम और हर्षोल्लास के साथ निकाली गई.इसी के चलते अमीनाबाद मे माड़वाड़ी समाज के लोगो ने भी श्री जगन्नाथ यात्रा निकली | जिसका श्रद्धलुओ ने इस यात्रा का जगह-जगह स्वागत किया गया. भगवान जगन्नाथ, बलभद्र और सुभद्रा रथ पर विराजमान होकर शहर के भ्रमण पर निकले. इस यात्रा में तरह-तरह की झांकियां भी निकली गई जो की भक्तों को आकर्षित कर रही थीं. इस दौरान नन्हे मुन्ने कलाकारों ने आकर्षक सांस्कृतिक प्रस्तियां भी दीं| यह यात्रा अमीनाबाद की माड़वाड़ी वाली गली से सुरु होकर नाका चौराहा अमीनाबाद कैसरबाग होते हुवे माड़वाड़ी वाली गली मे आरती के बाद समाप्त हुई | वही आयजकों ने बताया यह यात्रा पिछले 99 सालो से लगातार हो रही है | पहले तो गोमती नदी तक जाती थी लेकिन पिछले 25 सालो से यह केवल कैसरबाग तक ही जाकर वापस आ जताई है |

पुराने लखनऊ स्थित मठ श्री बड़ी काली जी मंदिर से जगन्नाथ यात्रा बड़े ही धूमधाम के साथ निकाली गई. शहर की ऐतिहासिक जगन्नाथ यात्रा में विभिन्न प्रकार की झांकियां शामिल रहीं. इन झांकियों में कलाकारों द्वारा सांस्कृतिक और धार्मिक कलाकृतियां पेश की गई. भगवान जगन्नाथ, बलभद्र और सुभद्रा जी के दर्शन करने के लिए सड़कों पर लोगों का हुजूम उमड़ता रहा. ढोल नगाड़ों के साथ निकली जा रही यात्रा का जगह जगह फूल मालाओं से स्वागत किया गया|

मठ श्री बड़ी काली जी मंदिर से निकाली गई यात्रा का पुराने लखनऊ के तमाम इलाकों में भव्य रूप से स्वागत किया गया. इस दौरान धार्मिक गीत और नृत्य प्रस्तुत किए गए. नन्हे-मुन्ने कलाकारों की प्रस्तुतियां देखने के लिए सड़कों पर भक्तों का भारी हुजूम उमड़ता रहा. कलाकारों की अदाकारी देख लोग भाव विभोर हो गए.इस दौरान जगह-जगह स्टॉल लगाकर कलाकारों को सम्मानित किया गया और उन पर फूल बरसाए गए. मठ श्री बड़ी काली जी मंदिर के स्वामी हंसानंद महाराज ने बताया कि हर बार की तरह इस बार भी भगवान जगन्नाथ जी की भव्य यात्रा निकाली गई है. भगवान जगन्नाथ, बलभद्र और सुभद्रा जी को रथ पर विराजमान किया गया है. कई तरह के सांस्कृतिक कार्यक्रमों को यात्रा में शामिल किया गया है|