Categories

May 18, 2024

skdarpannews

ASHALI SURAT DIKHATA

माई मेंटोर के सहयोग से फैशन और डिज़ाइन के छात्रों के लिया फ्री कार्यशाला का आयोजन

माई मेंटोर के सहयोग से फैशन और डिज़ाइन के छात्रों के लिया फ्री कार्यशाला का आयोजन

माई मेंटोर के सहयोग से फैशन और डिज़ाइन के छात्रों के लिया फ्री कार्यशाला का आयोजन

लखनऊ मे आज कला / डिज़ाइन / फैशन के क्षेत्र में रुचि रखने वाले छात्रों के कौशल विकास के लिए माई मेंटोर के दौरा लखनऊ के एक होटल मे एक प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया | जिसमे उन छात्रों जो की अपना सपना पूरा नहीं कर पते है या उन्हे जानकारी नहीं हो पाती है कि वह अपना भविष्य किस फिल्ड मे बना सकते है या उतने ही खर्चे मे अपनी पढाई विदेश की किसी अच्छी यूनिवर्स्टी पढ़ कर अपना अन्य वाला कल अच्छा कर सके  उन्ही छात्रों के लिए माई मेंटोर एक कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है । यह कार्यशाला 29 जुलाई 2023 को लखनऊ स्थित हयात होटल में आयोजित होगी और इसमें इंस्टीट्यूटो मारांगोनी के सहयोग से फैशन और डिज़ाइन के छात्रों से संवाद करने के लिए मिलान और लंदन के विशेषज्ञ आएंगे। जोकि फैशन और डिज़ाइन पाठ्यक्रमों से जुड़े विभिन्न कैरियर के बारे में छात्रों से बात करेंगे एवं उनके बीच जागरूकता पैदा करेंगे।
 इस अवसर पर मीडिया से बात करते हुए माई मेंटोर के को-फाउन्डर अनूप अग्रवाल ने बताया कि फैशन और डिजाइन का क्षेत्र एक उमरती संभावनाओं का क्षेत्र है और ऐसे में यह जरूरी है। कि हमारे शहर के छात्रों को फैशन में अपने करियर बनाने के लिए और बेहतरीन अवसर मिलें। इसी संदर्भ में माई मेंटोर और मिलान के इंस्टीट्यूटो मारांगोनी इस कार्यशाला का आयोजन कर रहे हैं। इस कार्यशाला के माध्यम से भारतीय छात्रों का सीधा संवाद फैशन और डिज़ाइन के क्षेत्र में विश्व विख्यात लंदन और मिलान के विशेषज्ञों से होगा।
कार्यशाला के बारे में बात करते हुए माई मेंटोर से जया अग्रवाल ने बताया कि इस कार्यशाला में 17-22 वर्ष की आयु सीमा के छात्र भाग ले सकते हैं और इसका पंजीकरण पूरी तरह से निःशुल्क है। यह कार्यक्रम लखनऊ के होटल हयात में सुबह 11 बजे से दोपहर 3.30 बजे तक आयोजित किया जाएगा और इसमें लखनऊ शहर के 100 से अधिक होनहार युवा प्रतिभाओं के भाग लेने की उम्मीद है।
माई मेंटोर एक्सएलआरआई जमशेदपुर और आईआईएम रांची जैसे प्रमुख संस्थानों से उत्तीर्ण एक्सपीरियंस प्रोफेशनल्स का एक समूह है जिनका लक्ष्य दुनिया भर के 28 से अधिक देशों में स्नातक और स्नातकोत्तर कार्यक्रमों के लिए जा रहे छात्रों की विदेशी यात्रा को सरल और बेहतर बनाना है। इसके साथ-साथ संस्थान छात्रों को विदेश में शिक्षा हेतु विभिन्न परीक्षाओं जैसे सैट, जीमैट, टोफेल इत्यादि के लिए भी तैयार करता है।