Categories

April 21, 2024

skdarpannews

ASHALI SURAT DIKHATA

जल्द ही दर्शको को देखने को मिलेगी मोरल कॉप फिल्म,निर्देशक पवन कुमार दिखेगे मोबाईल का तिलिस्म 

जल्द ही दर्शको को देखने को मिलेगी मोरल कॉप फिल्म,निर्देशक पवन कुमार दिखेगे मोबाईल का तिलिस्म 

जल्द ही दर्शको को देखने को मिलेगी मोरल कॉप फिल्म,निर्देशक पवन कुमार दिखेगे मोबाईल का तिलिस्म 

लखनऊ मे आज स्तुति इंटरटेनमेंट और श्रीनिका फिल्म्स के बैनर तले आने वाली फिल्म ‘मोरल कॉप के निर्देशक पवन कुमार ने लखनऊ के यू पी प्रेस क्लब मे एक प्रेस वार्ता का आयोजन किया | इस परेश वार्ता मे निर्देशक पवन कुमार  के साथ फिल्म मे काम करने वाले मुख्य कलाकार  यजुर्वेद्र प्रताप सिंह, राजेश जैस, जहाँगीर खान, सुनील भार्गव, प्रतीक्षा सिंह, आरव शुक्ला, प्रिया विश्वनाथ, योगेश परिहार, सतीश त्रिवेदी, नरेंद्र पंजवानी, पंकज टिटोरिया, राम गंगवार, बृजभूषण, सर्वदमन सिंह, अमरेश और देविका सिंह आदि लोग मौजूद रहे।इस मौके पर मिडिया को बताया कि यह फिल्म मोबाइल का अतिशय प्रयोग विचारशीलता का नाश कर एक भोले भाले इंसान को हैवान बना सकता है। फिल्म उन अभिवाहकों को भी जागरूकता करना चाहती है कि अपनी रुचिप्रद गतिविधियों में अपने बच्चों द्वारा व्यवधानित होने से बचने के लिए अपने बच्चों के हाथों में मोबाइल के रूप में एक ऐसा खतरनाक उपकरण थमा देते हैं जो उन्हें भटकाकर मूल्यों से, रचनात्मकता से, खेलों के मैदान से दूर ले जाता है।यह फिल्म इसी उद्देश्य से बनाई गई है | कि मोबाईल का प्रयोग करे लेकिन सावधानी से |

फिल्म बड़ी प्रभावशीलता के साथ यह बात भी कहती है कि मोबाइल बच्चों के लिये एक ऐसा तिलिस्मी कैदखाना है जिसके अंदर जाने का रास्ता बड़ा सहल है, पर बाहर निकलने का रास्ता अत्यंत दुरूह।

पवन कुमार इस फ़िल्म को प्रयोगात्मक सिनेमा के एक नये अध्याय के रूप में देख रहे हैं। दावा किया जा रहा है कि फ़िल्म कलात्मक गहराई के साथ व्यवसायिक पुट भी लिये होगी और क्लास और मास दोनों की स्वाद कलिकाओं को भाएगी। निर्देशक द्वारा इस अन्वेषणात्मक तर्ज पर दो हज़ार चौबीस तक दो और फ़िल्में बनाने की दिशा में कार्य चल रहा है।

ध्यातव्य है कि लेखक, निर्देशक पवन कुमार अमिताभ बच्चन, नसीरुद्दीन शाह, बोमन ईरानी, अनुपम खेर, पंकज त्रिपाठी जैसे धाकड़ अभिनेताओं की उपस्थिति से दिप्तमान अपनी डॉक्य‌फ़िल्म ‘नाम था कन्हैयालाल’ के लिए काफ़ी तारीफें बटोर चुके हैं जो वर्तमान में जियो सिनेमा में दिखाई जा रही है।

फ़िल्म मोरल कॉप की शूटिंग लखनऊ और समीपवर्ती इलाकों में की गयी है जिसमें कई स्थानीय कलाकारों की भागीदारी है। शूटिंग से पहले लखनऊ में दस दिवसीय कार्यशाला का भी आयोजन किया गया था। अपने हार्ड हिटिंग विषय के साथ लोगों के मन को झकझोरने का मंसूबा लिए यह फ़िल्म सिनेमा के पर्दे पर बृहद स्तर पर प्रदर्शित होने जा रही है।