Categories

June 21, 2024

skdarpannews

ASHALI SURAT DIKHATA

महाराजा सुहेलदेव राजभर की 1015वीं जयंती बड़े ही हर्षोउल्लास के साथ मनाई गई

महाराजा सुहेलदेव राजभर की 1015वीं जयंती बड़े ही हर्षोउल्लास के साथ मनाई गई

महाराजा सुहेलदेव राजभर की 1015वीं जयंती बड़े ही हर्षोउल्लास के साथ मनाई गई

लखनऊ में आज राजभर एकता कल्याण समिति ने महाराजा  सुहेलदेव राजभर की 1015वीं जयंती बड़े ही हर्षोउल्लास के साथ मनाई | इस मौके पर हजरतगंज के चौराहे पर इस्थित उनकी मूर्ति पर समिति के लोगो ने उनकी मूर्ति पर फूल माला पहनकर और मिठाई बांटकर जयंती मनाई | वही इस मौके पर मौके पर मौजूद पदाधिकारियों ने कहा कि तीन त्यौहार है महाराजा सुहेलदेव की जयंती ,ज्ञान की देवी सरस्वती जी की आराधना व  पश्चिमी सभ्यता यानि वैलेंटाइन डे l इन त्योहारों पर समस्त प्रदेशवासियों देशवासियों को मैं हार्दिक बधाई देता हूं l आज का जो दिवस है महाराजा सुहेलदेव जयंती दिवस उनके त्याग और देश के प्रति समर्पण और हिंदुत्व की रक्षा के लिए जो उन्होंने योगदान दिया है उनके नाम पर आज पूरा देश में एक  महायोद्धा ,महाप्रक्रामी के रूप में मनाया जाना चाहिए। आज राष्ट्रीय मुद्दा ही नहीं अंतर राष्ट्रीय  मुद्दा बना हुआ है अयोध्या का राम मंदिर। पूरी दुनिया में इसकी चर्चा है। प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी ने  बड़ी कुशलता से स्थापित करने का कार्य कर रहे हैं। यह बड़े गर्व की बात है उसे अयोध्या की भूमि जो हिंदुत्व और सनातन संस्कृति का प्रदेश नहीं पूरा देश आस्था का केंद्र बिंदु रहा l उस भूमि पर महाराज सुहेलदेव ही नहीं उनके ऊपर वाली पीढ़ी और उनके पुत्र और पौत्र ने सभी ने अयोध्या की धरती को उस आस्था की नगरी को अपना खून पसीना त्याग समर्पित करके विदेशी आक्रमणकारियों से संरक्षित करने का कार्य किया। उनकी याद में उनकी जयंती समारोह को पूरे उत्साह के रूप में मनाया जाना चाहिए। और सरकार से मांग की की इस दिन उनकी याद मे इस्कूलो मे महाराजा  सुहेलदेव राजभर संगोष्ठी आदि कराया जाना चाहिए |