skdarpannews

ASHALI SURAT DIKHATA

गुरुद्वारा सदर में सिखों के प्रथम गुरु गुरु नानक देव महाराज जी का जन्म उत्सव धूमधाम से मनाया गया  

गुरुद्वारा सदर में सिखों के प्रथम गुरु गुरु नानक देव महाराज जी का जन्म उत्सव धूमधाम से मनाया गया  

गुरुद्वारा सदर में सिखों के प्रथम गुरु गुरु नानक देव महाराज जी का जन्म उत्सव धूमधाम से मनाया गया  

लखनऊ मे आज गुरुद्वारा सदर में सिखों के प्रथम गुरु गुरु नानक देव महाराज जी का जन्म उत्सव धूमधाम से मनाया गया।कार्यक्रम की शुरुआत सुबह प्रभात फेरी के समापन हुआ उपरांत आसा की वार का कीर्तन आरंभ हुआ ।विशेष तौर से आए कबीर साहब के ऐतिहासिक गुरुद्वारा मगर के हजूरी रागी भाई इंदरजीत सिंह अमृतसर वालों ने सारंग राग में कलि तरण गुरु नानक आया का कीर्तन गायन कर संगत को आत्म विभोर कर दिया।वही हेड ग्रंथी ज्ञानी हरविंदर सिंह कथा के दौरान संगत के सम्मुख जानकारी दी की साहब श्री गुरु नानक देव जी पुनर्जागरण के 15वीं शताब्दी में महान पुंज के रूप में जाने जाते हैं जिन्होंने अज्ञानता के अंधेरे को मिटाते हुए आध्यात्मिक ज्ञान का नूर पूरे विश्व में प्रज्वलित किया।वही मिडिया से बात करते हुवे  गुरुद्वारा अध्यक्ष सरदार हरपाल सिंह जग्गी ने कहा की साहिब श्री गुरु नानक देव जी कि पवित्र पदार्पण 1479 अयोध्या के मंदिर में भी हुआ। जहां पर पंडितों से ज्ञान वार्ता हुई 1810 के सरकारी अभिलेखों में यह ऐतिहासिक वृतांत दर्ज है 1830 में बाबर द्वारा राम मंदिर को ध्वस्त किया गया सर्वोच्च न्यायालय द्वारा भाई बालाजी की साखी में अंकित इस घटना को साक्ष्य के रूप में लेते हुए राम मंदिर के पक्ष में न्याय संगत न्याय हमें प्राप्त हुआ जहां पर 22 जनवरी को मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा की जाएगी |और हमें भव्य रूप रूप देखने को प्राप्त होगा सरदार तेजपाल सिंह रोमी पूर्व अध्यक्ष गुरुद्वारा सदर महामंत्री ने अवगत कराया कि शाम का दीवान 6 बजे से रात्रि 9:00 तक होगा आज के इस आयोजन में चरक हॉस्पिटल द्वारा डायग्नोस्टिक सेंटर द्वारा स्वास्थ्य पर भी लगाया गया उल्लेखनीय की गुरुद्वारा सदर में आधुनिक पैथोलॉजी के अतिरिक्त एक्स रे एवं  ECG की सुविधा भी उपलब्ध है |