Categories

April 21, 2024

skdarpannews

ASHALI SURAT DIKHATA

हादसे को न्योता दे रहा स्कूल का जर्जर भवन, टूटी-फूटी छत के नीचे पढ़ाई करने को मजबूर मासूम,

हादसे को न्योता दे रहा स्कूल का जर्जर भवन, टूटी-फूटी छत के नीचे पढ़ाई करने को मजबूर मासूम,

हादसे को न्योता दे रहा स्कूल का जर्जर भवन, टूटी-फूटी छत के नीचे पढ़ाई करने को मजबूर मासूम

लखनऊ जहा एक तरफ शिक्षा व्यवस्था के लिया मुख्यमंत्री बहुत ही ध्यान दिया करते है लेकिन राजधानी का कुछ अलग ही हल है अधिकारी ध्यान नहीं दे रहे है मामला लखनऊ के बनारसी टोला के नव ज्योति बालिका जूनियर हाईस्कूल का है  जहा  स्कूल की इमारत पूरी तरह से बदहाली का शिकार हो चुकी हैं. बनारसी टोला क्षेत्र में स्थिति स्कूल  में बने कमरों की छत पूरी तरह से जर्जर हो चुके है. छत कब गिर जाए, कुछ कहा नहीं जा सकता है. लेकिन, छत के नीचे बैठकर पढाई कर रहे माशूम हैं. मासूमों की जिंदगी पर मौत का संकट मंडरा रहा है. लेकिन स्कूल प्रशासन व अधिकारियो का  इस ओर कोई ध्यान नहीं है. इस स्कूल में शिक्षा के नाम पर मासूमों को मौत के मुंह में धकेलने का काम चल रहा है, लेकिन शिक्षा विभाग,व अधिकारी नींद की आगोश में है|क्योकि इसकी शिकायत कई बार अधिकारियो को करने के बाद भी अधिकारी मौके पर देखने तक नहीं आय | जिसके बाद आज पीड़ित ने मिडिया के माध्यम से अपने सरकार तक बात पहुंचे की कोशिस की पीड़ित ने कहा की यह बिल्डिंग देख अनुमान लगाया जा सकता है यह कितनी पुरानी है |जिससे कभी भी कोई अप्रिय घटना हो सकती है।भवन के मालिक द्वारा बार-बार विद्यालय को किसी किसी अन्य जगह लेजाने को लेकर कहा गया है लेकिन वह नहीं सुनते |